Friday, September 21, 2018 Home   |   Sign in   |   Contact us   |   Help  
  View Certificate
 
होम राज्य देश संपादकीय युवा खेल फ़िल्मी सितारे वीडियो कैरियर आर्थिक
 

टाइम्स ग्रुप ऑनलाइन मेगा पोल: 58.4% लोग रोजगार सृजन पर मोदी सरकार के कामकाज से संतुष्ट

     Last Updated:(11:29 AM) 26 May 2018
नरेंद्र मोदी केंद्र में एनडीए सरकार के चार साल पूरे होने के मौके पर शनिवार को ओडिशा के कटक में एक रैली करेंगे। यह सभा बालियात्रा मैदान में शाम 4 बजे होगी। इसमें वे सरकार के कामकाज का लेखा-जोखा पेश करेंगे। ऐसा कहा जा रहा है कि मोदी 2019 में ओडिशा के साथ-साथ आंध्र प्रदेश और तेलंगाना को साधना चाहते हैं। इसलिए उनकी वाराणसी के साथ-साथ पुरी से भी लोकसभा चुनाव लड़ने की चर्चा है। 2019 में लोकसभा चुनाव के साथ इन तीनों राज्यों में विधानसभा चुनाव भी हैं। बता दें कि सरकार के तीन साल पूरे होने पर मोदी ने असम में जनसभा की थी।भाजपा ने कटक में जनसभा करने का फैसला भाजपा ने एक रणनीति के तहत लिया है। दरअसल, बीजेपी 2019 में ओडिशा की ज्‍यादा से ज्‍यादा लोकसभा सीटों पर जीत की उम्‍मीद कर रही है। उधर, मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसा कहा जा रहा है कि मोदी 2019 का आम चुनाव फिर दो सीटों से लड़ सकते हैं। वाराणसी के अलावा यह दूसरी सीट पुरी होगी। 2014 में मोदी ने वाराणीस और वडोदरा से चुनाव लड़ा था।ओडिशा में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव साथ-साथ होने हैं। इसलिए पार्टी का मानना है कि अगर मोदी पुरी से चुनाव लड़ते हैं तो भाजपा को विधानसभा और लोकसभा में फायदा मिलेगा। ओडिशा में विधानसभा की 147 सीटें हैं। वहीं, लोकसभा की 21 सीटें हैं। इनमें से 20 सीटें बीजू जनता दल (बीजेडी) और एक सीट भाजपा के पास है।मोदी ने ट्वीट कर कहा- '2014 में आज के ही दिन हमने भारत के बदलाव के सफर की शुरुआत की थी। पिछले चार साल में विकास जन आंदोलन बन गया है। देश का हर नागरिक इसमें अपनी हिस्‍सेदारी महसूस कर रहा है। सवा सौ करोड़ भारतीय भारत को नई ऊंचाइयों पर ले जा रहे हैं।"मोदी सरकार के चार साल पूरा होने के मौके पर कांग्रेस शनिवार को विश्वासघात दिवस' मना रही है। कांग्रेस की ओर से कहा गया है कि पार्टी जनता के सामने सरकार का पर्दाफाश करेगी। कांग्रेस ने सभी राज्यों में और जिला स्तरों पर धरने और प्रदर्शन करने का फैसला किया। कांग्रेस का आरोप है कि सरकार भ्रष्टाचार, कालेधन, महंगाई, आतंकवाद और विदेश नीति को लेकर पूरी तरह विफल रही है। वहीं, महंगाई, महिला सुरक्षा, सीमा सुरक्षा और अन्य मुद्दों पर नीतियां कारगर साबित नहीं हुई हैं। उधर, मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।
  टिप्पणी

 

  फोटोगैलरी
 
 
 
होम राज्य देश संपादकीय युवा खेल फ़िल्मी सितारे वीडियो कैरियर आर्थिक Youtube Video Facebook Twitter in.com