Friday, July 20, 2018 Home   |   Sign in   |   Contact us   |   Help  
  View Certificate
 
होम राज्य देश संपादकीय युवा खेल फ़िल्मी सितारे वीडियो कैरियर आर्थिक
 

एपल 1 ट्रिलियन डॉलर मार्केट कैप का आंकड़ा छूने के करीब

     Last Updated:(10:56 AM) 06 Jun 2018
कैलिफोर्निया. एक ट्रिलियन यानी 1000 अरब डॉलर का मार्केट कैप रखने वाली दुनिया में अभी कोई भी कंपनी नहीं है। एपल 12 जीरो और 13 डिजिट वाली कंपनी बनने का माइलस्टोन जल्दी ही पार कर सकती है। अमेजन, अल्फाबेट और माइक्रोसॉफ्ट और अभी एपल से पीछे हैं। एपल का एक ट्रिलियन डॉलर का मार्केट कैप 67 लाख करोड़ रुपए के करीब होगा। यानी भारत की कुल अर्थव्यवस्था का 42%।एपल के 1 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचने की बड़ी वजह आईफोन है। 2007 में कंपनी ने जहां सिर्फ 14 लाख आईफोन बेचे, 2017 में इसका आंकड़ा बढ़कर 21 करोड़ से ज्यादा हो गया। एपल के कुल रेवेन्यू में 60 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी आईफोन की ही रहती है। 2017 में कंपनी का कुल रेवेन्यू 229 अरब डॉलर था।एपल के लिए आईफोन के इतर उसकी वियरेबल डिवाइस का बिजनेस भी अच्छा रेवेन्यू दे रहा है। पिछले 12 महीने में एपल वॉच जैसी डिवाइसेस की 9 अरब डॉलर की सेल हुई है।अभी एपल की वर्ल्ड वाइड डेवलपर्स कॉन्फ्रेंस चल रही है। सितंबर में एपल का सालाना इवेंट होगा। आईफोन के अगले वर्जन के बाद अगर रेवेन्यू ग्रोथ 10 प्रतिशत से ज्यादा चली गई तो कंपनी साल के आखिरी तक एक ट्रिलियन डॉलर का आंकड़ा पार कर जाएगी। 2017 में एपल की ग्रोथ रेट 6.3% रही थी। एपल का मार्केट कैपिटलाइजेशन 5 जून को 950.59 बिलियन डॉलर हो गया। 50 बिलियन डॉलर और जुड़ने से इसका मार्केट कैप 1 ट्रिलियन डॉलर पार कर जाएगा।  गूगल की कंपनी अल्फाबेट का मार्केट कैप 791.26 बिलियन डॉलर है। ऑनलाइन बुकस्टोर से दुनिया की टॉप फाइव कंपनियों की लिस्ट में शामिल हुई अमेजन 823.14 बिलियन डॉलर पर है।कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर बनानेवाली माइक्रोसॉफ्ट 785.76 बिलियन डॉलर पर है।सबसे ज्यादा चर्चित चीन की कंपनी अलीबाबा का मार्केट कैप 534.46 बिलियन डॉलर है जो इस दौड़ में काफी पीछे है। सऊदी अरब की कंपनी अरामको इसी साल पब्लिक होने जा रही है। इसकी वैल्यू 1.5 से 2 ट्रिलियन डॉलर के बीच रहने की उम्मीद है।2007 में पेट्रोचाइना कंपनी ने 1 ट्रिलियन डॉलर के मार्केट कैप का आंकड़ा छुआ था। तब शंघाई के शेयर बाजार में उसके शेयर्स में तीन गुना की बढ़ोतरी हुई थी। लेकिन एक ही दिन में कंपनी इस मार्केट कैप से नीचे आ गई। मार्च 2008 तक वह 500 अरब डॉलर पर आ गई। आज वह अलीबाबा से भी पीछे है।
  टिप्पणी

 

  फोटोगैलरी
 
 
 
होम राज्य देश संपादकीय युवा खेल फ़िल्मी सितारे वीडियो कैरियर आर्थिक Youtube Video Facebook Twitter in.com